Make a blog

sant-rampal-ji-maharaj

1 year ago

nam diksha

जैसे पहले सीडी ,डीवीडी द्वारा परमेश्वर प्रदत्त नामदीक्षा दी जाती थी , सतगुरु आज्ञा से अब भी दी जा रही है ! इच्छुक व भगत जन इन नंबरों पर सम्पर्क कर सकते हैं जी सम्पर्क सूत्र :-08222880541,08222880542 ,08222880543,08222880544 , 08222880545 हरियाणा :-09034617732 ,09810271351 ,09416031429 देहली :- 09990448822 ,09810131989 ,08750930429, राजस्थान :-09252730211 ,09214401412 ,07073835494, पंजाब :- 08558802525. उत्तरप्रदेश:- 09560482460,08006263114,095396070268,09935350731 09935968410,08303302906,09889933744,08948859062 बिहार :-09504826009 महाराष्ट्र :-09763700341,09379106769 , M.P:-Chhtarpur 08517874484,Barwani 09098780346 गुजरात :- 09724716629 ,09904823347 नेपाल बीरगंज :- 97-79860561946 नेपाल काठमांडू :-97-79860561947 www.facebook.com/photo.php?fbid=798222270286055&set=gm.455776334583891&type=1&theater तूं लख चौरासी खेला रे, अब हो सतगूरू का चेला रे ।। Nc Arya > ‎Followers of Jagat Guru Rampal JI * जैसे पहले सीडी ,डीवीडी द्वारा परमेश्वर
1 year ago

सत्य ज्ञान

तूने रात गँवायी तूने रात गँवायी सोय के, दिवस गँवाया खाय के। हीरा जनम अमोल था, कौड़ी बदले जाय॥ सुमिरन लगन लगाय के मुख से कछु ना बोल रे। बाहर का पट बंद कर ले अंतर का पट खोल रे। माला फेरत जुग हुआ, गया ना मन का फेर रे। गया ना मन का फेर रे। हाथ का मनका छाँड़ि दे, मन का मनका फेर॥ दुख में सुमिरन सब करें, सुख में करे न कोय रे। जो सुख में सुमिरन करे तो दुख काहे को होय रे। सुख में सुमिरन ना किया दुख में करता याद रे। दुख में करता याद रे। कहे कबीर उस दास की कौन सुने फ़रियाद॥ सत् साहेब 1 · Report · Yesterday at 4:11pm Ripudhaman Singh Chauhan